YEAST - yodi dong

YEAST

खमीर 
गैस 
मेरे दस साल की भतीजा को याद हायना आपलोगो को। जो बिस्वास करता है ,की उसके बड़ा पापा को दुनिया के  सरे क्वेश्चन की आंसर मालूम है ,वह आज आये और बोले -"पापा ,दादा जी कुर्सी मई बैठ के ,जा के देखो क्या गन्दा गन्दा काम कर रहा है"। मई पूछा ,क्या किये उन्होंने ?भतीजा बोल उठा आन एडुकेटेड की तरह पाद मार रहा है। में बोलै -देखो दादा जी को खाना हजम नहीं हुआ होगा ,गैस  होगये ,तभी तो वह ऐसा कर रहा है। 
Image result for yeast
Dry Yeast and Fresh Yeast
सिंगल सेल 
यीस्ट एनी के खमीर है सिंगल सेल फुनगी,इसे ब्रेड ,बन,बेर्गेर या पिज़्ज़ा बनाने  में  लगता है। खमीर या यीस्ट दो टाइप के होते है -ड्राई यीस्ट और फ्रेश यीस्ट। ड्राई यीस्ट प्रोयग करने से पहले ,वार्म वाटर और शुगर मिलाना जरूरी हैउसके साथ तभी यीस्ट काम करेगा,फ्रेश यीस्ट के लिए इतना झंझट नहीं है। यीस्ट जो फंगस है ओह शुगर को खाते है ,और मेरे पापा की तारा छोड़ते है,बस उसी में  dough  फूलते है ,और हम सब वही खाके धन्य,धन्य करता हु। 
सुखाद्य 
क्या है असली फ़ूड और क्या है जंक फ़ूड। सब कहते है कॉन्टिनेंटल फ़ूड, फ़ूड वैल्यू में आगे है। अच्छा फिर हमरे इंडियन फ़ूड क्या है ,मैदा हम ईउस  करते नहीं। दाल,चावल ,आटा ,गुड़ ,पनीर,फिश चिकेन,खाद्य गुणों से भरा है,है मनता  हु आज काल बहुत ज्यादा स्पाइसी और ऑयली हो गए इंडियन फ़ूड। लेकिन कॉन्टिनेंटल फ़ूड तो सुरु से ही जंक फ़ूड है। मैदा ज्यादा उसे करते है,ऊपर में खमीर ,सोने पे सुहागा। 

साइंस 
खमीर का साइंटिफिक नाम है साईहरूमयिस सर्विसिए ,इसका एक ग्राम बनाने क लिए चाहिए २०,०००,०००,
००० ,बिस बिलियन फंगस। औंस में  आएगा एक की अठास भाग। पिज़्ज़ा बनाने में, एक किलो मैदा मे खमीर  तीस ग्राम फ्रेश यीस्ट दिए जाते है,अब सोचिये  की परिमाण आप हजम करते हो एक पिज़्ज़ा खाने के टाइम में। 
शुगर खाके खमीर गैस और अल्कोहल छोड़ता है। 

कोई कोई सोच रहा है -अरे बाह अल्कोहल फ्री में मिल रहा है ,और ये बकवास कर रहा है ,अरे छोड़िये मेरे बात एतो  सिंपल सा NISCHE है। 



No comments

Powered by Blogger.