flicking - yodi dong

flicking

फ्लिकिंग ऐसे एक वर्ड है जिसका बिना ,होटेल इंडस्ट्री की कहानी अधूरा है। चिन्दी चोरी टाइप के  है ये फ्लिकिंग, मुझे लगता है।
इस फ्लिकिंग वर्ड की सही इस्तेमाल करते है स्टुअर्ड लोग। प्रोडक्शन की स्टाफ  फ्लिकिंग करते  नहीं ,उनका फ्लिकिंग छुप जाते है "टेस्ट वर्ड" के पीछे। अब सर्विस के स्टाफ क्या करे, टेस्ट करने की अधिकार उनके पास नहीं होते ,तो चलो फ्लिकिंग करो। होटल इंडस्ट्री में सबसे ज्यादा एहि स्टुअर्ड लोग फ्लिकिंग करते है,फ़ूड , ड्रिंक्स और टिप्स। इनके साथ जुड़े होते है-हाउस कीपिंग,कॅश ,किचन और सिक्योरिटी भी।
woman crotching near table with wine glasses
कॉकटेल पार्टी 
 मैनेजमेंट जी जान लगाके ,कोसिस करते है इस फ्लिकिंग को रोकने को। थोड़ा तो रुख पते है,लेकिन पूरा रोकना ना  मुमकिन है। क्या क्या दिमाग लगाए जाता है (कंट्रोलिंग सिस्टम),---जैसे बैंक्वेट में स्नैक्स और खाना की फ्लिकिंग रोकने को हम पिक उप स्टाफ के साथ एक ये दो कप्तान देते है ,की दर के मरे जूनियर स्टाफ फ्लिकिंग नहीं करेगा ! लेकिन बास्तब में वह कप्तान खुद फ्लिकिंग के लपेट में आ जाते है। में  बैंक्वेट पार्टी से पहले सर्विस स्टाफ को पेट भरके खाना खिला ते थे,चिकेन राइस ,जो क म लेते थे उनकी पलटे में खुद भर देता था। की भाई पेट भरा रहेगा तो फ्लिकिंग कम होगा ,ये लोग मेरे सामने तो कुछ नहीं बोलते थे लेकिन बाद में c c tv में देखा की गोर्बेज  ड्रम में प्लेट खली कर देते है। चोर दिए ये तरकीब मैंने। इनको उस स्टुअर्ड की बाटे सुनाया की फ्लिकिंग किया हुआ , चिकेन कि हड्डी गले में अटक जायगा ,फिर तुम भी मरोगे साथ में हम झंझट  में पड़ेंगे। रिजल्ट हुआ एहि,की अचानक सरे स्टाफ भाई एनाटोमी फिजियोलॉजिस्ट बन गए ?तंदूरी चिकेन कि गोश्त गायब ,हड्डी या जमा हो रहा है कोने में!ब्रीफिंग में में बार बर कारके इनको समझाता था -"देखो तुम लोग पार्टी में जो स्नैक्स फ्लिकिंग करते हो वह तो हमे मालूम है ,ए आदत छोड़ो तुम्हारा कर्रिएर खराप हो रहा है,ऊपर से जो बियर की फ्लिकिंग करते हो ये सबसे ज्यादा ख़राब है। खाना तो आपने है लेकिन बियर गेस्ट की है,ये हम बर्दस्त  नहीं करेंगे।  बंद करो ये फ्लिकिंग्स ,इसमें होटल की बदनाम है और होटल की रेपुटेशन भी बुरा होते है। कला धब्बा लग जाते।

 अचानक सुकेश एनी की वह .रूमबॉय ,पेचकस कहानी की हीरो बोल उठा--"सर हम लोग तो बियर तो छुपा ता नहीं ,कभी किसी के पेट गरम हुआ तो ही लेते है ,नहीं तो हमें व्हिस्की अच्छा सूट करता है ,किउ ,है कि नही  ....

No comments

Powered by Blogger.