Friday, July 19, 2019

Both sides of coin .

Both side of the same coin .



शिव नंदन चुघ- हमारे होतेल की चीफ आकउंटेंट है। में और शिव जी एकी उम्र  के थे। हमारे होटल है पश्चिम डेल्हीके इस कम्युनिटी हॉल के पास ,शिव जी के घर था सुभाष नगर में। हम दो चार बार उनके घर गए थे। शिव जी की पिताजी भी अकाउंटेंट की जॉब करतेथे ,माँ और उनका बीवी ठी हाउस  वाइफ। अपना माकन था उनका सुभाष नगर में। शिव जी की बीवी प्रेगनेन्ट थी।
https://www.kakolib.com/2019/07/both-side-of-coin.html
शिव जी को देखते ही आपको आपने आप रेस्पेक्ट आएगा। शुवे ऑफिस आते है नाहा के ,माथे पे लाल टिका लगा के। क्लीन शवेद होते है वह। बहुत धीरे बाते  करते है। कभी गुस्सा देखे नहीं। किसी के भी एडवांस ये लोन चाहिए तो सिद्धा शिव जी के पास जाते है और वह कोई न कोई हल निकल देते है। आज सुभे आठ बजे शिव जी ने फ़ोन किये। पूछे कितने बजे ऑफिस आ जाऊंगा ?



में तीन सरे तीन बजे ऑफिस आ जाते है ,और ऑफिस से घर वापस होते होते रात के दो बजते है। ये तो शिव जी को मलूम है फिर भी जॉब पूछा, तो कारन कुछ होगा ही। -"आप कितने देर में ऑफिस पोछोगे ?"
उन्होंने बोलै -"आधा घंटे में ".
-ठीक है ,में दस बजे ही आ जाते हु।


दस बजे- ऑफिस पौहच गए में ऑफिस में। शिव जी को फ़ोन किये -"सर आजाओ ,में पहुँच गए।"थोड़ी देर में शिव जी आगये मेरे ऑफिस में ,कॉफ़ी बोलै था में,कॉफ़ी पीते पीते ,में पूछा -क्या बात है शिव जी ,कोई बड़े गोलमाल ?
शिव जी बोले -"सर,चोरी हुआ ,रेस्टोरेंट में। बहुत दिनों से चल रहा था ,काल पकड़ में आये। "में उनके तरफ देखने लगे तो उन्होंने फिर बोले ---"होम डेलिवरी के कॅश सेल को कार्ड में दिखा के ,कॅश जैब में ले लिए।"
-'कौन है सर इसमें?"
-सर ,कॅश के लोरिना और एकाउंट्स के चटर्जी है  !लोरिना कॅश उड़ाया और चत्तेर्जी उड़ाए बिल।
-और कोई है ?
-सर,मेरे नज़र में तो है नहीं ,फिर भी आप थोड़ा छान बिन करो।
-जी.एम् सर को बताना पड़ेगा पहले। सर आये क्या ?
--थोड़ी देर में आ जाएंगे,काल की सी सी टीवी चेक करो सर ,दो बजे की। ...
चेक किये तो दखाई दिए ,की लोरिना हाथ में मुठ्ठी करके रूपया लिए और फिर आपने ब्लाउज में डाला। राठोड  सर के पास गए  शिव जी  और में। सर को डिटेल्स में सब  बताये। फिर सी सी टीवी के फुटेज भी दिखा ए। सर बोलै -"पहले लोरिना को बुलाओ।"थोड़ी देर में लोरिना आये।
सर ने सुरु किये,- लोरिना काल सात हज़ार के एक कॅश पेमेंट में होम डिलीवरी था ?
-कौन सा होम डिलीवरी सर ?
--ज्यादा स्मार्ट होने की जरुरत नहीं है ,सात हज़ार के डिलीवरी एक ही था। उसे तुम कार्ड में दिखाई  हो। और कार्ड की सेल को पूरा गयेब ,कर दिए ?
--नहीं सर,ऐसा कुछ नहीं ,हो सकता है मिस्टेक करके कॅश को कार्ड दिखा दिए। ...
--तो फिर कॅश कहा है ?
--नहीं मतलब--
--लोरिना ,सर बोले ,आज अभी तुम निकल जाओ होटल से ,न तो तुम रेसिग्नेशन दोगे ,न तुम्हे हम फायर करेंगे।
लोरिना रौ पड़े ,सर में....
--कुछ मत बोलो ,सीधा निकल जाओ ,नहीं तो पुलिस आएगा ,कोर्ट केस होगा ,बदनामी होगी।
--सर। ... कुछ बोलने की कोसिस की लोरिना। ....
--सर बोले ,मुझे कुछ सुनना नहीं ,शिव लोरिना की 34 देस के एब्सेंट विथ आउट नोटिस के होते ही ,तुम इसको नोटिस देना, . अब इसके जुडी देर चटर्जी को बुलाओ। ...
चटर्जी का हल भी सैम हुआ। सर अब मुझे बोले-- भत्ता तुम्हे आधा घंटा देता हु, गेम प्लान रेडी करो ये चोरी रोकने की।
होटल इंडस्ट्री में खाना ,दारू और पैसा बहुत ही आसानी से मिल जाते है। बेशक आप बैंक्वेट ,बार ,रूम ,ये रेस्टोरेंट पे काम करो। ऐसे नहीं की होटल वाला प्रोवाइड करते है , फ्लिकिंग से   दारू और पैसा जुगाड़ करते है स्टाफ,सभी नहीं ,फिरवी ज्यादा ही ऐसे करते है। चोरी रुकना ही है। और तरीका है ------

 4 बजे ब्रीफिंग के टाइम पे रेस्टोरेंट पे सबको बुलाये ,स्टुअर्ड,कप्तान इवन सीनियर कप्तान को भी बुला लिए में।शुरू किया मैंने --आज एक  चोरी करने की टीम  शिव जिकी बजा से  पकड़ा गए ,होटल की कमाई के  साथ में आप लोगो के कमाई भी लुटते  थे ,किउ की उस रेवेनुए के साथ आप लोगो के टिप भी होते है। उन दोनों ने सिर्फ आपने लिए सोचे ,पिछले छे साल की जमा पैसे भी रुक जायगा उनके। घर  वाले को क्या जवाब देंगे वह?
---आज से इस  नियम लागु  होगा -नम्बर  एक -बिल फोल्डर हमेसा  खली रहे गा ,गेस्ट के टेबल से आने के बाद। कोई पुराने बिल अगर उसके अंदर कप्तान  को मिला तो  एक पॉइंट डेबिट होंगे उस स्टुअर्ड की जो सर्विस किये थे।
नम्बर दो अगर मेरे चेकिंग के टाइम मुझे बिल फोल्डर में पुराने  बिल मिले गा तो - सीनियर कप्तान ,कप्तान और स्टुअर्ड की एक पॉइंट करके सबकी टिप्स डेबिट होंगे।  कोई भी बिल अगर दस मिनट से ज्यादा टाइम पे  होगा तो केशियर उसकी एक पॉइंट टिप्स  खोएगा। चोरी एनी की गलत तरीके की कमाई आपके सुख,चयन  और रेस्पेक्ट को हानि करेगा ,इससे दूर रहिये !

मई जनता हु की अच्छे  लोग संख्या में ज्यादा है दुनिया में ,कुछ बुरा  लोगो की लिए आपने अच्छाई दबा मत दीजिये। हमारे नज़र आज से और ज्यादा रहेगा आप लोगो की ऊपर ,अच्छा रहिये ,सन्मान से जीते रहिये।

ऐसे कंट्रोलिंग सिस्टम के सहारे में ,मैंने सभी होटल को चला ते थे। और अभी इस तिस साल तक मेरे नौकरी लाइफ में दुबारा कोई चोरी न हो पाए। इसको कभी मॉडिफिकेशन  की जरुरत पड़े तो किया मैंने। लालच से दूर रहना होटल मैनेजमेंट की एक शिख है। में जब ये सरे काम कर रहा था शिव जी मेरे साथ थे ,उनका मुँह बिलकुल शांत था।

होटल इंडस्ट्री की जब करके मैंने आदमी की अजीब सा कैरेक्टर  देखे है ,लोरिना ,चटर्जी के साथ कितने  अच्छे टाइम बिताये ,लेकिन कभी सोच नहीं पाए ये दोनों चोर है!दोनों के जाने के बाद ,जब स्टाफ डाइनिंग में जातेथे तो ,दोनों की कमी नज़र आता था। आपने घर से भी ज्यादा टाइम हम ऑफिस को देते है ,अनजाने में स्टाफ एक दूसरे की हमदर्द हो जाते है। लेकिन इसमे भी एक दो अलग रहे ही जाते है। ......

 Mr. चुघ होटल छोड़  दिए इस साल --- बैंक्वेट  की चार पार्टी की पेमेंट जो बैंक में जमा होते थे वह जमा हुआ नहीं  ,पेमेंट जमा  करते थे Mr.chugh ...





0 Comments: